Sex chatting online without need of debit card

सुशील को बताओ न कि मुझे किस तरह की चुदाई पसंद है।” फिर कामुक्ता का एक नया दौर शुरू हुआ। विनोद अपनी बीवी सुधा के पीछे आकर खड़ा हो गया और मुझे उसके सामने खड़ा कर दिया। फिर सुधा के माथे पे आये बालों को हटाते हुए मुझसे बोला, “सुशील इसके होंठों को चूसो।” मैंने एक आज्ञाकारी शिष्य की तरह आगे बढ़ कर अपने होंठ सुधा के होठों पर रख दिए। सुधा ने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी। हम दोनों एक दूसरे की जीभ को चूस रहे थे। “अब इसकी चूचियों को चूसो,” विनोद ने कहा। मैं नीचे झुक कर सुधा की चूँची को हाथों में पकड़ कर उसका निप्पल अपने मुँह में ले चूसने लगा। उसकी चूचियाँ बहुत बड़ी और कसी हुई थी। गोल चूंची और काले सख्त निप्पल काफी मज़ा दे रहे थे। “दूसरी को नज़र अंदाज़ मत करो” कहकर उसने सुधा की दूसरी चूँची पकड़ मेरे मुँह के आगे कर दी। मैं अपने होंठ बढ़ा कर उसके दूसरे निप्पल को अपने मुँह मे ले चूसने लगा। करीब पाँच मिनट तक मैं उसकी चूचियों को चूसता रहा, और मैंने पाया कि विनोद के हाथ मेरे कंधों पे थे और मुझे नीचे की और दबा रहा था। मुझे इशारा मिल गया। कैसे एक पति दूसरे मर्द को अपनी बीवी से प्यार करना सिखा रहा था। मैंने नीचे बैठते हुए पहले उसकी नाभी को चूमा और फिर उसकी कमर को चूमते हुए अपने होंठ ठीक उसकी चूत के मुख पे रख दिए। जब मैं उसकी चूत पे पहुँचा तो मैं दंग रह गया। विनोद ने सुधा के पीछे से अपने दोनों हाथों से उसकी चूत की पंखुड़ियाँ पकड़ के इस कदर फैला दी थीं, जिससे मुझे उसकी चूत को चाटने में आसानी हो। जैसे ही मैंने अपने जीभ उसकी चूत पे फ़िरायी, मैंने पाया कि मेरी बीवी नेहा ठीक मेरे बगल में बैठी थी और उसकी निगाहें सुधा की चूत पे टिकी हुई थी। विनोद को अच्छी तरह पता थी कि मर्द की कौन सी हर्कत उसकी बीवी की चूत में आग लगा सकती थी, “अब अपनी जीभ से इसकी चूत के चारों और चाटो”, उसने कहा। आज मैं कई सालों के बाद किसी दूसरी औरत की चूत को चाट रहा था, वो भी जब कि मेरी बीवी छः इंच की दूरी पे बैठी मुझे निहार रही थी। मैंने अपना एक हाथ बढ़ा कर नेहा की चूत पे रखा तो पाया कि उत्तेजना में उसकी चूत भी गीली हो चुकी थी। मैं अपनी दो अँगुलियाँ उसकी चूत में घुसा कर अंदर बाहर करने लगा। मैं सुधा की चूत को चाटे जा रहा था और नेहा मेरे लंड को पकड़ कर सहलाने लगी। “अब इसकी चूत को नीचे से ऊपर तक चाटो और करते जाओ? ” विनोद ने सुधा की चूत और फ़ैलाते हुए कहा। मैंने वैसे ही किया जैसा उसने करने को कहा। सुधा की चूत से उठी मादक खुशबू मुझे और पागल किये जा रही थी। “अब अपनी पूरी जीभ सुधा की चूत में डाल दो? ” विनोद सुधा के चूत को फ़ैलाये उसके पीछे खड़ा था। मैं और तेजी से उसकी चूत को चूसने लगा। इतने में सुधा का शरीर अकड़ा और जैसे कोई नदी का बाँध खोल दिया गया हो, उस तरह से उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया। मेरा पूरा मुँह उसके रस से भर गया। सुधा जमीन पे बैठ कर अपनी उखड़ी साँसों को संभालने लगी। थोड़ी देर सुस्ताने के बाद उसने मेरे चेहरे को अपने नज़दीक कर मुझे चूम लिया, “सुशील अब मैं चुदवाने के लिये तैयार हूँ! No there are a lot of free rooms where you can chat with girls who are there just to have fun and meet people .

Sex chatting online without need of debit card-36Sex chatting online without need of debit card-88

When I first entered the camcontacts site I was a bit disappointed. Registration is free, good because if there’s one thing I hate most about some webcam sites it’s a monthly charge. As a free member you can have plenty of fun at camcontacts because camcontact is not only a webcam sex site aimed to please the hardcore porn addicts.

Camcontacts actually turned out to be my favorite cam site.

A big difference between other new cam sites and Cheap Cam is that this one is created with some help from Im Live, and you can bet your ass that if these guys launch a new site, it is here to stay.

The homepage is off-white, actually the whole web site is mainly white / pink and it works because it is a nice soft color.

You start by accepting the “adult warning” so you can enter the platform.

A homepage full of little cam boxes awaits you inside.

Most cam performers have excellent cams with sound, especially the top rated models. And if your not chatting the members forum is a fun place to spend your time.

But there are other cam sites that offer the same possibilities so why did camcontacts turn out to be my favorite camsite.

However if you want to purchase credits for one of those horny webcam girls, a quick registration is obviously required.

Comments are closed.